Google+ Followers

Tuesday, October 14, 2014

अदा

कभी नजरें मिलाते हैं कभी नजरें चुराते हैं ,
किसी की जान जाती है अदा अपनी समझ बैठे ।।







No comments:

Post a Comment