Google+ Followers

Friday, August 29, 2014

कहने की बात

कुछ और बात करलो मुहब्बत को छोड़ कर  ,
रहने भी दो छोडो ये बस कहने की बात है । 




No comments:

Post a Comment