Google+ Followers

Sunday, June 25, 2017

प्रिय मीत

उसने जब - जब नफरत भेजी मैंने तब तब प्यार लिखा ,
अमर प्रीत में प्रिय मीत का हर तोहफ़ा स्वीकार लिखा।
                                                       BY
                                                  प्रीति सुमन

No comments:

Post a Comment