Google+ Followers

Wednesday, May 11, 2016

दिल की मरम्म्त

फ़टी हुई है मुहब्ब्त की सिलाई यारो ,
वक़्त के हाथ से अब दिल की मरम्म्त होगी ॥ 


Fti Hui Hai Muhbbat Ki Silai Yaro ,,
Wqt Ke Hath Se Ab Dil Ki Marmmat Hogi .....

No comments:

Post a Comment