Google+ Followers

Saturday, September 6, 2014

गुनाह

वो बेवफा है बात भी ये जानते रहे ,
फिर भी गुनाह ये की उसे चाहते रहे । ।


2 comments:

  1. ये प्रेक्का कसूर है इससे आगे सोचने नहीं देता ...

    ReplyDelete
  2. जी शुक्रिया आपका Digamber Naswa ji

    ReplyDelete