Google+ Followers

Sunday, September 28, 2014

प्यार का सदमा

 न हँसता है न रोता है,तड़पता है मचलता है,
बिछड़ के तुझ से मेरा दिल बड़े सदमे में रहता है ।।






No comments:

Post a Comment