Google+ Followers

Thursday, June 12, 2014

ऐ याद

हरपल तू घेरे रहती है कुछ पल तन्हा भी रहने दे  ,
ऐ याद जरा सी देर मुझे दुनियां के लिए भी जीने दे । ।



No comments:

Post a Comment