Google+ Followers

Sunday, June 1, 2014

शायरी

ले निशाने पे लग गए सारे तीर तेरे ,
देख छलनी हुए दिलों जां सभी मेरे ।


निशाने पे निशाने लगें अचूक सभी ,
कायल हो गए ले आज से हम भी तेरे । ।   

No comments:

Post a Comment