Google+ Followers

Saturday, June 7, 2014

यकीन

तुझे हो न हो मुझे है तेरी जीत का यकीन ,
अब मान भी ले ,
तुझे तुझसे जियादा जानती हूँ मैं ।  । 

No comments:

Post a Comment