Google+ Followers

Wednesday, June 11, 2014

जिंदगी

जो तू न छोड़ती तो तुझे छोड़ देते  हम ,
अच्छा है जिंदगी तू चार दिन के लिए थी ।


No comments:

Post a Comment