Google+ Followers

Saturday, May 31, 2014

सिकंदर

कौन अछूता है ये गम तो सबके अंदर होता है । 
हार नही माने जो गम से वही सिकंदर होता है । 

No comments:

Post a Comment