Google+ Followers

Tuesday, May 6, 2014

प्यार में क्या काम किया

मैंने हर लम्हा जिंदगी का उनके नाम किया ।
उनके ख्याल में सुबह से मैंने शाम किया ।
.
.
.
.
.
.
एक पल को भी उनकी याद से फुरसत न मिली ,
अब कहते हैं वो ही प्यार में क्या काम किया ।


No comments:

Post a Comment