Google+ Followers

Friday, September 13, 2013

शायरी

सारी रात तेरी याद में यूँही निकल गया । 
फिर याद तेरी आई फिर दिल मचल गया ।। 


मत पूछ की अरमानों से कैसा उठा धुँआ,
यादें जली सपने जलें दिल फिर से जल गया । 

No comments:

Post a Comment