Google+ Followers

Friday, May 24, 2013

''जनाब इश्क में ऐसे ही हाल रहते हैं । ''

आजकल हम बड़े ही बेखयाल रहते हैं ।
दिल में न जाने क्यूँ इतने सवाल रहते हैं ।

दिल से पूछा तो कहा उसने खुमारी का सबब ,
''जनाब इश्क में ऐसे ही हाल रहते हैं । ''

No comments:

Post a Comment