Google+ Followers

Monday, April 8, 2013

हम दुनियाँ है

दिल के बाहर भी दुनियाँ  है ।
दिल के अंदर भी  दुनियाँ है ।

ये दुनियां है , वो  दुनियाँ है ।
अंदर बाहर , दो  दुनियाँ है ।

अंदर खाली , बाहर खाली ,
अंदर  भड़ी , भड़ी  दुनियाँ है ।

इनकी दुनियां , उनकी  दुनियाँ  ,
यारों कितनी बड़ी  दुनियाँ है ।

कभी लगे है , गम  दुनियाँ है ,
कभी लगे सरगम  दुनियाँ है ।

दुनियां के भीतर  दुनियाँ  है ,
तुम दुनियाँ हो हम  दुनियाँ है। 

No comments:

Post a Comment