Google+ Followers

Thursday, April 4, 2013

शायरी

भूले से कभी  , याद भी करते नहीं हैं वो ,

और बेवफा हम हो गये हैं, कहते हैं सबको । 

1 comment:

  1. Vaah kya baat hai ...
    Jo bewafa hain hamko kahte hain bewafa ...

    ReplyDelete